जीत की कम संभावनाओं के बावजूद लोग क्यों खेलते हैं लॉटरी?

Chief Editor, Amit

Last updated on 18th February 2021

Published: 12/02/2021

Categories: ब्लॉग

लॉटरी हो या जुए का खेल, ये सभी को पता होता है कि वे उसमें हार भी सकते हैं। इसके बावजूद लोग इसमें रिस्क लेते हैं और खेलते हैं। हर किसी के पास एक मौका होता है, भले ही वह छोटा क्यों न हो। कई लोग इसी सोच के साथ लॉटरी में हाथ आजमाते हैं। लॉटरी में अक्सर ऐसा पाया जाता है कि इसमें जीतने की सम्भावना बहुत ही काम होती है, लेकिन इसके बावजूद लोग लॉटरी खेलना पसंद करते हैं। अमेरिका और यूके जैसे देशों में इसका चलन बहुत ही ज़्यादा है। वास्तव में, यह एक बहुत बड़ा सवाल है कि बहुत ही कम संभावनाओं के बावजूद लोग लॉटरी खेलना क्यों पसंद करते हैं?

कई शोध के माध्यम से यह पता चला है कि लॉटरी का खेल सबसे ज़्यादा गरीब देशों में ही चलता है। वैसे देश, जहाँ के लोगों के बीच बहुत ही ज़्यादा मुफलिसी हो। साथ में यह भी पाया गया है कि अमेरिका जैसे अमीर देशों में भी इसका चलन बहुत ही ज़्यादा है । यह चीज इस बात को दर्शाती है कि कुछ ही समय में मालामाल होने की सोच भी लोगों को लाटरी जैसी खेल में उतरने के लिए मजबूर करती है। पर, लॉटरी के खेल का कड़बा सच यह है कि इसमें बहुत ही कम लोग जीतते हैं और इसके साथ ही यह भी कि यहाँ जीत की सम्भावना भी बहुत कम होती है। ऐसा पाया गया है कि अमेरिका जैसे देशों में ऐसे कई लोग हैं जो अपनी कमाई का एक बहुत बड़ा हिस्सा कई सालों तक लॉटरी में खपा देते हैं और अंततः उनके हाथ कुछ भी नहीं लगता।

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि लॉटरी कम्पनियाँ जीते हुए लोगों का बड़े स्तर पर प्रचार-प्रसार करती हैं, उनकी जीत को बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जाता है। यह पूरा कार्यक्रम इसीलिए किया जाता है कि अन्य लोग भी इसे देख कर मालामाल बनने का सपना देखें और लॉटरी में अपनी किस्मत आजमाएं। और होता भी यही है। सभी लोग यही सोचते हैं कि जब सामने वाला जीत सकता है तो मैं क्यों नहीं? इस प्रकार, लोगों के लॉटरी खरीदने का एक सबसे बड़ा कारण यह भी होता है।

कई लोग इस बात को अच्छी तरह से समझते हैं कि लॉटरी में जीत की सम्भावना बहुत ही कम है, इसमें उनका ढेर सारा पैसा डूब सकता है, लेकिन इसके बावजूद वे सोचते हैं कि हमारा पैसा अगर जायेगा भी तो देशहित और समाजहित में जाएगा। गौरतलब है कि लॉटरी से आए हुए पैसे को कई सारी कम्पनियाँ शिक्षा और इस तरह के महत्वपूर्ण कामों के लिए देती है। पर, यह जगह-जगह की बात होती है। ऐसा कई जगह पाया गया है कि लॉटरी के खेल में खूब कालाबाजारी होती है। इस प्रकार, देशहित और मानवहित की बात को भी सोच कर लोग इसमें अपना पैसा लगते हैं; यह जानते हुए भी की इसमें जीतने की सम्भावना बहुत ही कम है।

हर किसी को अपना जीवन स्तर सुधारने की चाहत होती है। हर कोई चाहता है कि वह भी अमीर बने और यह भी सच है कि कई लोग इसके लिए मेहनत करने से भागते हैं और सारी जिम्मेवारी वे अपने किस्मत पर थोप देते हैं। यही कारण है कि लोग कुछ ही समय में मालामाल होने के लिए लॉटरी में अपनी किस्मत आजमाते हैं। इस प्रकार, ऐसे और भी कई कारण हैं जो लोगों को लॉटरी के खेल में आने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।